अमेरिकी स्कूल गोलीबारी: दो को घायल कर की आत्महत्या

14 December, 2013 8:46 AM

24 0

एरापाहो हाईस्कूल के चौकस छात्रों ने उस अध्यापक को तत्काल ही सूचित कर दिया था, जिसे यह किशोर निशाना बनाने वाला था. सूचना मिलने पर वह अध्यापक तुरंत ही इमारत से निकल गया था.

न्यूटाउन नरसंहार की बरसी की शाम की घटना ने एक बार फिर देश के स्कूलों में हिंसा की संभावनाओं की ओर इशारा किया है.

अधिकारियों ने कहा कि घायल विद्यार्थियों में से एक लड़की गंभीर रूप से घायल हुई है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. एक अन्य छात्र को हल्की चोटें आई थी और उसे बाद में अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी.

अस्पताल की प्रवक्ता ने कहा कि एक तीसरे व्यक्ति की चोटों का भी उपचार किया जा रहा है लेकिन उसे गोली नहीं लगी थी.

एरापाहो काउंटी के शेरिफ ग्रेसन रॉबिन्सन ने शुरुआत में यह सूचना दी थी कि सबसे ज्यादा गंभीर रूप से घायल विद्यार्थी बंदूकधारी से उलझने पर घायल हुआ था. लेकिन उन्होंने बाद में कहा था कि ऐसा प्रतीत नहीं होता.

रॉबिन्सन ने शुक्रवार रात को बंदूकधारी की पहचान कार्ल हाल्वरसन पियरसन के रूप में की थी.

रॉबिन्सन ने कहा कि बंदूकधारी स्कूल में एक शॉटगन लेकर घुसा और वह अपने लक्षित शिकार अध्यापक को उसका नाम लेकर खोज रहा था.

रॉबिन्सन ने कहा कि जैसे ही अध्यापक को पता चला कि छात्र उन्हें ढूंढ रहा है, वे तत्काल ही स्कूल से निकल गए.

शेरिफ ने कहा कि वह जानते थे कि वे ही लक्ष्य हैं. इसलिए वे फौरन स्कूल से निकल गए. यह एक कोशिश थी कि बंदूकधारी भी स्कूल से निकल जाए. यह एक बुद्धिमत्तापूर्ण फैसला था.

रॉबिन्सन ने कहा कि बंदूकधारी की पहली सूचना मिलने के 20 मिनट के अंदर अधिकारियों को संदिग्ध का शव स्कूल के अंदर से बरामद हुआ.

टेलीविजन फुटेज में छात्रों को स्कूल के दौड़ने के पथ की ओर हवा में हाथ उठाए आते देखा गया. रॉबिन्सन ने कहा कि अधिकारी यह सुनिश्चित कर लेना चाहते थे कि कोई और षडयंत्रकारी मौजूद नहीं है.

इसी दौरान स्कूल के आसपास कारों का जाम लग गया क्योंकि माता-पिता अपने बच्चों को देखने पहुंच गए थे. कुछ माता-पिता गिरिजाघर में लंबी कतारों में खड़े रहे. एक छोटी बच्ची नंगे पैर अपने माता-पिता के पार पहुंची तो पूरे परिवार ने रोना शुरू कर दिया.

गोलीबारी की खबर फैलने के साथ ही डेनवर इलाके के स्कूल बंद कर दिए गए और सुदूर फोर्ट कॉलिन्स तक के स्कूलों की सुरक्षा बढ़ा दी गई.

Source: samaylive.com

To category page

Loading...