'आप' नेता कुमार विश्वास को 'बिग बॉस' के लिए मिला पांच करोड़ का ऑफर

22 July, 2014 4:28 AM

38 0

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास को रिएलिटी टीवी शो 'बि बॉस' में हिस्सा लेने के लिए पांच करोड़ रुपए का ऑफर दिया गया है. भले ही विश्वास अमेठी में राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव हार गए हों लेकिन अब खबर है कि विश्वास बिग बॉस का हिस्सा हो सकते हैं.

लोसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को करारी हार का सामना करना पड़ा है और अपने अस्तित्व की लड़ाई से जूझ रही है. लेकिन कवि से नेता बने कुमार विश्वास हारने के बावजूद सेलिब्रिटी बन गए हैं.

बिग बॉस की प्रोडक्शन कंपनी इंडेमोल रियलिटी टीवी शो बिग बॉस में कुमार विश्वास को लेना चाहती है और इसके लिए उसने पांच करोड़ का ऑफर उन्हें दिया है. अपनी कविताओं के चलते कुमार विश्वास को पहले ही युवाओं में काफी पसंद किया जाता है.

इससे पहले कुमार विश्वास इसी महीने सिलिकॉन वैली में गूगल के कर्मचारियों के साथ लीडरशिप बातचीत करेंगे. इसके अलावा कैलिफोर्निया की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में राजनीति पर लेक्चर देंगे.

विश्वास के नजदीकी सूत्रों के मुताबिक इंडेमोल ने उन्हें पांच करोड़ का ऑफर दिया है, लेकिन कुमार ने इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया है. इंडेमोल इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ दीपक धर ने इसकी पुष्टि करने से इंकार कर दिया. उन्होंने कहा, 'अपनी नीतियों के मुताबिक हम बाजार के आकलन पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे'. गौरतलब है कि सार्वजनिक मंचों पर कई बार बिग बॉस से ऑफर मिलने का दावा कुमार विश्वास कर चुके हैं.

इससे पहले कल विश्वास एक बार फिर चर्चा में आ गए थे जब कुमार विश्वास का एक बहुत पुराना सपना पूरा होने की खबर आई थी. खबर थी कि वह अब बॉलीवुड में एंट्री कर रहे हैं.

विश्वास महिला सशक्तीकरण और सामाजिक मुद्दे पर आ रही फिल्म 'भैरवी' के लिए गाने लिखे हैं और उनके शब्दों को मशहूर गायिका आशा भोसले आवाज देंगी. फिलहाल इस फिल्म के बारे में ज्यादा कुछ सामने नहीं आया है.

अपने इस खास सपने के बारे में 'आप' नेता ने कहा, ''मेरा सपना था कि कभी लता मंगेशकर और या आशा जी मेरे लिखे गीतों को गाएं. अब मेरा यह सपना पूरा होने जा रहा है.'' आशा भोंसले 8 साल बाद किसी हिन्दी फिल्म के गाने को अपनी आवाज देंगी. खबरों की माने तो विदेशों में उनके कार्यक्रमों की संख्या बढ़ गई है और उन्होंने अपनी फीस बढ़ा दी है.

'आप' नेता कुमार विश्वास ने चुनाव के दौरान अमेठी में तीन महीने गुजारे. लेकिन उनका चुनाव प्रचार वोटरों को लुभा पाने में नाकाम रहा और उन्हें केवल 25000 वोटों से संतोष करना पड़ा.

Source: abpnews.abplive.in

To category page

Loading...