आमिर

14 September, 2014 7:12 AM

19 0

मुंबई (एसएनएन): अपने कार्यक्रम 'सत्यमेव जयते' के जरिए सामाजिक मुद्दों से जुड़े कई तरह के तथ्यों और आंकड़ों को देश के सामने लाने वाले बॉलीवुड के अभिनेता-निर्माता आमिर खान का मानना है कि सभी व्यक्ति भ्रष्टाचारी हैं. उनका कहना है कि भ्रष्टाचार एक बुराई है जिसका देश के विकास पर व्यापक प्रभाव पड़ता है और हर व्यक्ति को अपने अंदर से इस निकाल फेंकना चाहिए.

मुंबई (एसएनएन): अपने कार्यक्रम 'सत्यमेव जयते' के जरिए सामाजिक मुद्दों से जुड़े कई तरह के तथ्यों और आंकड़ों को देश के सामने लाने वाले बॉलीवुड के अभिनेता-निर्माता आमिर खान का मानना है कि सभी व्यक्ति भ्रष्टाचारी हैं. उनका कहना है कि भ्रष्टाचार एक बुराई है जिसका देश के विकास पर व्यापक प्रभाव पड़ता है और हर व्यक्ति को अपने अंदर से इस निकाल फेंकना चाहिए.

आमिर ने सवालिया लहजे में कहा कि कितने लोग हैं जो ईमानदारी से अपने टैक्सों का भुगतान करते हैं? उन्होंने कहा कि जो लोग सरकार को टैक्स का भुगतान नहीं करते वे सभी देशद्रोही हैं. भ्रष्टाचार केवल सांसदों में ही नहीं है बल्कि यह हर व्यक्ति के अंदर मौजूद है. आमिर ने यह भी कहा कि हर 5 साल में सांसदों को बदलने का कोई मतलब नहीं है. देश की स्थिति को सुधारने के लिए हमें खुद में सुधार लाने की आवश्यक्ता है.

आमिर ने सवालिया लहजे में कहा कि कितने लोग हैं जो ईमानदारी से अपने टैक्सों का भुगतान करते हैं? उन्होंने कहा कि जो लोग सरकार को टैक्स का भुगतान नहीं करते वे सभी देशद्रोही हैं. भ्रष्टाचार केवल सांसदों में ही नहीं है बल्कि यह हर व्यक्ति के अंदर मौजूद है. आमिर ने यह भी कहा कि हर 5 साल में सांसदों को बदलने का कोई मतलब नहीं है. देश की स्थिति को सुधारने के लिए हमें खुद में सुधार लाने की आवश्यक्ता है.

Source: shrinews.com

To category page

Loading...