आया खुशियों का त्यौहार ‘क्रिसमस’

24 December, 2013 7:12 PM

39 0

क्रिसमस यानी खुशियों का त्यौहार, ईसा मसीह या यीशु के जन्म की खुशी का त्यौहार जो 25 दिसंबर को पूरी दुनिया में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है. क्रिसमस के 12 दिन पहले क्रिसमसटाइड की भी शुरुआत होती है. क्रिसमस के दिन लोग एक दूसरे को उपहार, चॉकलेट, मिठाई देकर त्यौहार का आनंद उठाते हैं. ईसाई समुदाय के लोग हफ्तेभर पहले से ही घरों को सजाने का काम शुरू कर देते हैं.

सजावट के तौर पर सब क्रिसमस ट्री, रंग बिरंगी लाइटें, ईसा मसीह की मूर्ति और हॉली आदि इस्तेमाल करते हैं. इस दिन सांता क्लॉज (क्रिसमस के पिता) बच्चों को तोहफे देते हैं. क्रिसमस को यूं तो अब सभी धर्मों के लोग मनाने लगे हैं लेकिन इसे ईसाई लोग खासतौर पर मनाते हैं.

सजावट के तौर पर सब क्रिसमस ट्री, रंग बिरंगी लाइटें, ईसा मसीह की मूर्ति और हॉली आदि इस्तेमाल करते हैं. इस दिन सांता क्लॉज (क्रिसमस के पिता) बच्चों को तोहफे देते हैं. क्रिसमस को यूं तो अब सभी धर्मों के लोग मनाने लगे हैं लेकिन इसे ईसाई लोग खासतौर पर मनाते हैं.

दुनिया भर के ज्यादातर देशों में ये 25 दिसंबर को मनाया जाता है लेकिन काफी देशों में 24 दिसंबर से ही जश्न की शुरूआत हो जाती है जबकि ब्रिटेन और अन्य राष्ट्रमंडल देशों में क्रिसमस के अगले दिन यानि 26 दिसंबर को बॉक्सिंग डे के रूप मे मनाया जाता है. कुछ कैथोलिक देशों में इसे सेंट स्टीफेंस डे या फीस्ट ऑफ सेंट स्टीफेंस भी कहते हैं.

दुनिया भर के ज्यादातर देशों में ये 25 दिसंबर को मनाया जाता है लेकिन काफी देशों में 24 दिसंबर से ही जश्न की शुरूआत हो जाती है जबकि ब्रिटेन और अन्य राष्ट्रमंडल देशों में क्रिसमस के अगले दिन यानि 26 दिसंबर को बॉक्सिंग डे के रूप मे मनाया जाता है. कुछ कैथोलिक देशों में इसे सेंट स्टीफेंस डे या फीस्ट ऑफ सेंट स्टीफेंस भी कहते हैं.

आर्मीनियाई अपोस्टोलिक चर्च में 6 जनवरी को क्रिसमस मनाया जाता है. पूर्वी परंपरागत गिरिजा जो जुलियन कैलेंडर को मानते हैं वो जुलियन वेर्सिओं के मुताबिक 25 दिसंबर को क्रिसमस मनाते हैं. जो ज्यादा काम में आने वाले ग्रेगोरियन कैलेंडर को मानते हैं वो 7 जनवरी को मनाते हैं क्योंकि इन दोनों कैलेंडरों में 13 दिनों का अन्तर होता है.

आर्मीनियाई अपोस्टोलिक चर्च में 6 जनवरी को क्रिसमस मनाया जाता है. पूर्वी परंपरागत गिरिजा जो जुलियन कैलेंडर को मानते हैं वो जुलियन वेर्सिओं के मुताबिक 25 दिसंबर को क्रिसमस मनाते हैं. जो ज्यादा काम में आने वाले ग्रेगोरियन कैलेंडर को मानते हैं वो 7 जनवरी को मनाते हैं क्योंकि इन दोनों कैलेंडरों में 13 दिनों का अन्तर होता है.

क्रिसमस कई संस्कृतियों में एक सर्दियों में परंपरागत तरीके से मनाया जाने वाला सबसे लोकप्रिय त्योहार था. अमरीकी गृहयुद्ध के दौरान हार्पर्स वीकली ने 1863 में पहली बार उपहार सांता क्लॉस हाथों बांटे गए.

क्रिसमस कई संस्कृतियों में एक सर्दियों में परंपरागत तरीके से मनाया जाने वाला सबसे लोकप्रिय त्योहार था. अमरीकी गृहयुद्ध के दौरान हार्पर्स वीकली ने 1863 में पहली बार उपहार सांता क्लॉस हाथों बांटे गए.

लैटिन अमेरिकी देशों में जो प्रथा आज भी चली आ है उसके मुताबिक संता खिलोने बना कर छोटे यीशु को देता है जो असल में सभी बच्चों के घर इसे पहुंचाते हैं. ये कहानी एक पुरानी धार्मिक मान्यताओं और आज के आधुनिक युग में वैश्वीकरण से मिलकर बनी है.

लैटिन अमेरिकी देशों में जो प्रथा आज भी चली आ है उसके मुताबिक संता खिलोने बना कर छोटे यीशु को देता है जो असल में सभी बच्चों के घर इसे पहुंचाते हैं. ये कहानी एक पुरानी धार्मिक मान्यताओं और आज के आधुनिक युग में वैश्वीकरण से मिलकर बनी है.

Source: shrinews.com

To category page

Loading...