नेपाल चुनाव में 105 सीटों के साथ एनसी को बढ़त

25 November, 2013 11:18 AM

65 0

नेपाल में प्रत्यक्ष चुनाव प्रणाली के तहत देश की नयी 601 सदस्यीय सभा की 240 सीटों पर मतों की गिनती का काम सोमवार को पूरा हो गया और 105 सीटों पर जीत के साथ नेपाली कांग्रेस प्रमुख पार्टी बनकर उभरी है.

सोमवार सुबह अंतिम परिणाम मिलने के साथ ही सीपीएन यूएमएल को नेपाली कांग्रेस के बाद दूसरे नंबर पर 91 सीटें मिली हैं और यूनीफाइड सीपीएन माओवादी केवल 26 सीटों के साथ तीसरे स्थान पर खिसक गयी है. पिछली संविधान सभा में वह सबसे बड़ी पार्टी थी.

मधेसी पीपुल्स पार्टी फोरम, डेमोकेटिक और तराई मधेसी डेमोकेटिक पार्टी को चार-चार सीटें मिली हैं.

मधेसी पीपुल्स राइट्स फोरम नेपाल को दो जबकि राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी को तीन तथा सद्भावना पार्टी, तराई मधेसी सद्भावना पार्टी और नेपाल पीजेंट्स एंड वर्कर्स पार्टी को एक-एक सीट मिली है.

दो निर्दलीयों ने भी चुनाव में जीत हासिल की है.

कुल मिलाकर मधेस आधारित पार्टियों को प्रत्यक्ष मतदान प्रणाली में 12 सीटें मिली हैं.

335 अनुपातिक सीटों पर भी मतों की गिनती का काम शुरू हो गया है.

मतों की गिनती के बाद 601 सदस्यीय संविधान सभा का गठन होगा जिसमें 240 सीटें प्रत्यक्ष मतदान के जरिए होंगी. अनुपातिक मतदान से 335 सदस्यों का चुनाव किया जाएगा तथा बाकी 26 सीटों पर सरकार सदस्यों को नामित करेगी.

यह संविधान सभा देश के नए संविधान का मसौदा तैयार करेगी.

आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली (पीआर) के तहत पूरे देश को एक निर्वाचन क्षेत्र माना जाता है और संबंधित राजनीतिक दल द्वारा हासिल किए गए वोटों के अनुपात के आधार पर सीटों का आवंटन किया जाता है.

पीआर प्रणाली के तहत कुल मिलाकर 122 राजनीतिक दलों के 10709 उम्मीदवार हैं. प्रत्येक पार्टी द्वारा हासिल किए गए मतों के अनुपात के अनुसार 335 सीटों का बंटवारा 122 राजनीतिक दलों के बीच होगा.

किसी भी राजनीतिक दल को पूर्ण बहुमत के लिए कुल 301 सीटों की जरूरत होगी.

अनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली के तहत सीपीएन यूएमएल सभी अन्य दलों से आगे चल रहा है और उसके बाद नेपाली कांग्रेस तथा माओवादी तीसरे स्थान पर हैं.

Source: samaylive.com

To category page

Loading...