प्रीति जिंटा के खिलाफ वाडिया हॉस्पिटल का स्टाफ पहुंचा मरीन ड्राइव थाने

16 June, 2014 11:39 AM

34 0

प्रीति जिंटा के खिलाफ वाडिया हॉस्पिटल का स्टाफ पहुंचा मरीन ड्राइव थाने

स्टाफ में महिलाएं भी शामिल थीं. सूत्रों के मुताबिक वाडिया हॉस्पिटल के 10-12 कर्मचारी सोमवार को मरीन ड्राइव थाने पहुंचे. उन्होंने पुलिस में दी शिकायत में कहा कि इतने साल साथ रहने के बाद भी प्रीति जिंटा छेड़छाड़ का आरोप लगा रही हैं. उन्होंने प्रीति जिंटा पर छेड़छाड़ की धारा के दुरुपयोग करने का आरोप लगाया.

वहीं मुंबई पुलिस नेस वाडिया के खिलाफ लगे आरोपों की जांच में जुटी है. पुलिस ने दो लोगों के बयान दर्ज कर लिए हैं जबकि अभी आईपीएल के सीईओ सुंदर रमन का बयान दर्ज किया जाना बाकी है. इसके अलावा पुलिस ने प्रीति जिंटा को भी ई-मेल लिखकर बयान दर्ज कराने की बात कही है. प्रीति फिलहाल भारत से बाहर हैं.

पुलिस इस मामले में नेस वाडिया और प्रीति जिंटा के ई-मेल अकाउंट भी खंगालेगी, प्रीति जिंटा ने कहा था कि उन्होंने नेस वाडिया को ई-मेल लिखा था जिसके जवाब में वाडिया ने उन्हें चेतावनी भरा ई-मेल लिखा था. इसके अलावा सीसीटीवी के जरिए भी सबूत जुटाए जा रहे हैं.

गौरतलब है कि प्रीति जिंटा ने अपने नेस वाडिया के खिलाफ मरीन ड्राइव थाने में ही छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया है. प्रीति ने आरोप लगाया है कि 30 मई को किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए आईपीएल मैच के दौरान नेस ने उनके साथ छेड़छाड़ और गलत व्यवहार किया था.

आरोपों के मुताबिक नेस ने प्रीति का हाथ पकड़ा और सबके सामने बदसलूकी की. शिकायत में कहा गया है कि नेस ने सबके सामने गाली-गलौज की. नेस ने अपनी ऊंची पहुंच का हवाला देते हुए कहा कि वो चाहें तो प्रीति को गायब करा देंगे. प्रीति ने शिकायत में यह भी आरोप लगाया है कि दोनों के ब्रेकअप के बाद भी नेस कई बार उन्हें परेशान करते थे. हालांकि नेस ने आरोपों से इनकार किया है. उन्होंने कहा कि वह इन आरोपों से परेशान और स्तब्ध हैं.

अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें. आप दिल्ली आजतक को भी फॉलो कर सकते हैं.

For latest news and analysis in English, follow IndiaToday.in on Facebook.

Source: aajtak.intoday.in

To category page

Loading...