प्रीति-नेस विवादः वो खेल, जो पिच पर नहीं स्टैंड में हुआ

25 June, 2014 9:30 PM

30 0

प्रीति-नेस विवादः वो खेल, जो पिच पर नहीं स्टैंड में हुआ

प्रीति ने पुलिस से उनका बयान उनके घर में लेने की गुज़ारिश की थी लेकिन पुलिस ने उनकी इस मांग को खारिज कर दिया था. मुंबई पुलिस के मुताबिक वो प्रीति का बयान इसलिए वानखेड़े स्टेडियम में लेना चाहती थी ताकि इस विवाद का पूरा सच सामने आ सके.

मंगलवार शाम 6 बजकर 40 मिनट पर प्रीति जिंटा अपना बयान दर्ज कराने के लिए वानखेड़े स्टेडियम पहुंची. मामला चूंकि हाई प्रोफाइल है इसलिए मुंबई ने सुरक्षा के खास इंतज़ाम किए हुए थे.

प्रीति के स्टेडियम पहुंचते ही पुलिस ने करीब 7 बजे उनसे मामले की पूछताछ शुरु की. सबसे पहले पुलिस उनको स्टेडियम के अंदर बीसीसीआई के दफ्तर लेकर गई और वहां उनसे एक घंटे तक सवाल जवाब करती रही. सूत्रों के मुताबिक प्रीति ने पुलिस को बताया कि 30 मई को मैच के दौरान नैस ने कैसे उनके साथ झगड़ा शुरू किया.

प्रीति के बयान के मुताबिक उनके पास 30 मई को मैच देखने के लिए 35 एसी सीट औऱ पचास जनरल सीटें थी. और जब देरी से पहुंचने पर नेस को सीट के लिए इंतज़ार करना पड़ा तो कैसे उन्होंने सबके सामने प्रीति से बदसलूकी की. उनको भद्दी गालियां दी और उनका हाथ भी मरोड़ा. इसके अलावा प्रीति ने पुलिस को 12 से 14 लोगों के नाम भी बताएं. जो इस पूरे वाकये के चश्मदीद हैं.

करीब एक घंटे की पूछताछ के बाद सवा आठ बजे पुलिस ने पूरी घटना का रिक्शट्रक्शन किया. इस दौरान अगले बीस मिनट तक वो प्रीति को उन जगहों पर ले गई जहां उनके मुताबिक प्रीति की नेस वाडिया से बहस हुई और नेस वाडिया ने उनके साथ बदसलूकी की. प्रीति ने पुलिस को उन तीनों जगहों की पहचान कराई जहां नेस के साथ उनकी बहस हुई.

प्रीति के मुताबिक नेस वाडिया से उनका झगड़ा तीन जगहों पर हुआ. पहला झगड़ा पैवेलियन के बाहर, दूसरा झगड़ा गरवारे एंड पर और तीसरा झगड़ा मैच खत्म होने के बाद मैदान पर हुआ. प्रीति ने पुलिस को ये भी बताया कि गरवारे पवेलियन की लड़ाई के बाद वो नॉन एसी सीट पर अपने दोस्त दानिश मर्चेंट के पास बैठ गई थीं.

सूत्रों के मुताबिक प्रीति जिंटा ने पुलिस पूछताछ में जिन चश्मदीदों के नाम लिए हैं उनमें मुख्य चश्मदीद एक विदेशी मूल के नागरिक मिस्टर जीन है जो बकौल प्रीति उनके अच्छे दोस्त भी हैं. पूछताछ के दौरान प्रीति ने बताया कि उनके गेस्ट जीन ने उनके और नेस के झगड़े में बीच बचाव करने की कोशिश की, लेकिन नेस वाडिया ने इसके बावजूद उनसे बदसलूकी की.

प्रीति ज़िंटा से पूछताछ के बाद मुंबई पुलिस ने अब उन 14 लोगों का बयान लेने का मन बनाया है जिनके नाम अपने बयान में प्रीति ने लिए हैं. इसके अलावा पुलिस उन तीन जगहों का फुटेज भी देखेगी. जहां दोनों में लड़ाई हुई थी. इस मामले की तफ्तीश के लिए मुंबई पुलिस आईपीएल के ब्रॉडकॉस्टर सोनी चैनल से 19 कैमरों में कैद रॉ फुटेज भी मांगेंगी. क्योंकि पुलिस को अब तक टेलीकास्ट हुए विजुअल्स ही मिले हैं.

इसके अलावा पुलिस ने प्रीति से अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी के बारे में भी पूछताछ की. क्योंकि रवि पुजारी इस मामले में नेस वाडिया को धमकी देने के लिए फोन कर चुका है. पुलिस ने प्रीति से पूछा कि क्या वो रवि पुजारी को जानता हैं. तो जवाब में प्रीति ने कहा कि वो किसी रवि पुजारी को नहीं जानती.

चूंकि मामला देश के एक बड़े बिज़नेस घराने के वारिस और बॉलीवुड की एक नामी हीरोइन से जुड़ा है इसलिए पुलिस भी इस केस की जांच बड़ी एहतियात से कर रही है.

अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें. आप दिल्ली आजतक को भी फॉलो कर सकते हैं.

For latest news and analysis in English, follow IndiaToday.in on Facebook.

Source: aajtak.intoday.in

To category page

Loading...