मुख्यमंत्री ने लखनऊ में की ‘आईटी सिटी’ परियोजना की शुरुआत

31 December, 2013 5:35 AM

6 0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नोएडा की तरह राजधानी लखनऊ को भी सूचना-प्रौद्योगिकी का प्रमुख केन्द्र बनाने के लिये महत्वाकांक्षी ‘आईटी सिटी’ परियोजना की शुरुआत की.

मुख्यमंत्री ने आईटी क्षेत्र की नामी कम्पनी एचसीएल की मदद से लखनऊ के चक गंजरिया फार्म में करीब 1500 करोड़ के निवेश से बनने वाली आईटी सिटी परियोजना की शुरुआत करते हुए इसके जल्द से जल्द मुकम्मल हो जाने की उम्मीद जाहिर की और कहा कि आईटी सिटी का लखनऊ में आना बहुत बड़ा काम है. इससे हजारों नौजवानों को रोजगार मिलेगा.

उन्होंने इस परियोजना के लिये एचसीएल प्रमुख शिव नादर को धन्यवाद दिया और कहा कि अभी दिल्ली के आसपास आईटी सिटी, उद्योग या कारखाने दिखायी देते हैं. बहुत से लोग चाहते थे कि लखनऊ में आईटी सिटी बने. सरकार ने कोशिश की और उसमें हम सफल हुए हैं.

अखिलेश ने कहा ‘‘आईटी क्षेत्र रोजगार की सम्भावनाओं से भरपूर क्षेत्र है. मुझे खुशी होगी कि प्रदेश के नवजवान जो मेहनत करके आगे बढ़ना चाहते हैं उनको एचसीएल एक मौका देगी. मुझे खुशी है कि आईटी सिटी बनेगी जिसकी शुरुआत आज होगी.’’

उन्होंने गरीब बच्चों के लिये काम कर रहे शिव नादर फाउंडेशन की भी सराहना की.

इस मौके पर नादर ने कहा कि आईटी सिटी में स्थानीय लोगों को ही रोजगार दिया जाएगा और एचसीएल लखनऊ में स्थापित होने वाली आईटी सिटी को आदर्श बनाने की कोशिश करेगी.

इसके पूर्व, मुख्य सचिव जावेद उस्मानी ने कहा कि आईटी सिटी परियोजना प्रदेश सरकार द्वारा चक गंजरिया के 900 एकड़ में जो विभिन्न परियोजनाएं स्थापित की जा रही हैं उनमें से महत्वाकांक्षी परियोजना है.

उन्होंने बताया कि आने वाले वर्षो में आईटी सिटी ही चक गंजरिया क्षेत्र की पहचान बनेगी. 10 वर्ष की कुल अवधि में इस परियोजना में 1500 करोड़ का निवेश होगा. पहला चरण (माइलस्टोन) तीन वर्ष में प्राप्त करने का लक्ष्य रखा गया है.

इसके तहत आईटी सिटी में पूरा आंतरिक ढांचा मसलन, सड़क, बिजली, पानी, जल निकासी इत्यादि की व्यवस्था की जाएगी. दूसरा चरण 10 वर्षो में हासिल करने का लक्ष्य है.

Source: samaylive.com

To category page

Loading...