मेरे पैरेंट्स को मुझ पर नाज है: श्रद्धा कपूर

5 July, 2014 8:27 AM

16 0

मुंबई: 'तीन पत्ती' और 'लव का द एंड' जैसी फिल्मों से अभिनय करियर शुरू करने वाली अभिनेत्री श्रद्धा कपूर कहती हैं कि उन्हें अपनी फिल्मों के चुनाव को लेकर कोई मलाल नहीं है.

श्रद्धा फिल्म 'आशिकी 2' की जबरदस्त सफलता के बाद चर्चा में आई थीं और अब उनकी फिल्म 'एक विलेन' की सफलता ने दर्शकों का ध्यान उनकी तरफ खींचा है. श्रद्धा ने आईएएनएस के साथ एक साक्षात्कार में अपने बीते अनुभव साझा किए.

श्रद्धा ने कहा, "मैं 'एक विलेन' को लेकर ज्यादा ही उत्साहित और घबराई हुई थी. फिल्म के प्रोमोज आने के बाद प्रतिक्रियाएं तो जबरदस्त थीं. निर्देशक मोहित सूरी और मैंने 'आशिकी 2' के बाद फिर से अपने आप को साबित किया."

श्रद्धा से यह पूछे जाने पर कि फिल्म की सफलता के बाद वह कैसा महसूस कर रही हैं, उन्होंने कहा, "बहुत अच्छा लग रहा है. मलाल सिर्फ इस बात का है कि इन दिनों मैं अपने परिवार से बिल्कुल कट गई. मैं घर पर सिर्फ अपने मम्मी-पापा के गले लगने आया करती थी. बाकी समय उनसे फोन पर ही बात हो पाती थी. जब भी मैं घर से बाहर जा रही होती थी, मेरे मम्मी-पापा गले लगाकर कहते थे कि उन्हें मुझ पर नाज है और इसी बात से मैं सारा-सारा दिन घर से बाहर रहकर काम कर पाती थी."

श्रद्धा ने कहा, "हर बच्चे की ख्वाहिश होती है कि उसके अभिभावकों को उस पर नाज हो. यदि मैं ऐसा कर पाई हूं, तो भाग्यशाली हूं. उनकी एक मुस्कान से ही मेरा पूरा दिन बन जाता है."

श्रद्धा से यह पूछे जाने पर कि 'आशिकी 2' को उनकी पहली फिल्म की तरह देखा जाता है, उन्होंने कहा, " 'आशिकी 2' में हम एक छोटा परिवार थे, जो अपने आप को स्थापित करने की कोशिश कर रहे थे और एक शुक्रवार के बाद हम सबकी जिंदगी बदल गई."

Source: abpnews.abplive.in

To category page

Loading...