मूवी रिव्यू: पैसे खर्च करके सिरदर्द चाहिए तो देखें 'तमंचे'

10 October, 2014 10:29 AM

10 0

अभिनेत्री रिचा चड्ढा और निखिल द्विवेदी स्टारर फिल्म तमंचे को सिनेमाघर में जाकर देखने की एक भी वजह मैं आपको नहीं बता सकती. फिल्म ऐसी जिसमें आप पहले ही अंदाजा लगा सकते हैं कि क्या होने वाला है. फिल्म के लीड एक्टर निखिल जब यूपी की हिंदी बोलते हैं तो बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं होता, ओवरएक्टिंग लगती है. कोशिश करने के बावजूद निखिल द्विवेदी अपनी भूमिका में फिट नहीं बैठे हैं.

इस फिल्म को हॉल में देखने से बेहतर है कि टीवी पर आने का इंतजार करें. हां, अगर आप अपने पैसे खर्च करके अपना सिरदर्द कराना चाहते हैं तो जरूर जाएं और देखें.

फिल्म में दो आशिकों क्रिमिनल आशिकों की कहानी को दिखाया गया है. किडनैपर मुन्ना मिश्रा (निखिल द्विवेदी) और ड्रग डीलर बिंदिया ठाकुर उर्फ बाबू (रिचा चड्ढा) की मुलाकात पुलिस वैन में होती जब उन्हें पुलिस अरेस्ट करके ले जा रही होती है. गाड़ी का एक्सीडेंट होता है और ये दोनों वहां से बच के भाग निकलते हैं.

पुलिस से बचने के लिए साथ में बिताए गए कुछ समय में ही मुन्ना को बाबू से प्यार हो जाता है. प्यार की तलाश में मुन्ना दिल्ली में उस जगह पहुंचता है जहां राणा (दमनदीप सिंह) के लिए बाबू काम कर रही होती है. यहां उसे पता चलता है कि बाबू राणा की गर्लफ्रेंड है. इसके बाद राणा के नाक के नीचे ये दोनों प्यार का खेल खेलते हैं. फिर कैसे इस बात का पता राणा को चलता है और उसके बाद वो इन दोनों के साथ क्या करता है यही फिल्म का क्लाइमेक्स है.

डायरेक्टर नवनीत बहल ने इस फिल्म से निर्देशन में कदम रखा है. नवनीत ने फिल्म के कई दृश्य हकीकत से दूर ही रखे हैं. फिल्म में बाबू और मुन्ना बैंक लूटते हैं. इस दौरान दोनों पैसे लूटने की बजाय पहले रोमांस और प्यार करते हैं और तब तक बैंक में काम करने वाले और वहां के लोग चुपचाप बैठे रहते हैं. ऐसे कई सीन हैं जो आपको हजम नहीं होंगे.

अभिनय के मामले में रिचा चड्ढा ने अपने फैंस को बिल्कुल भी निराश नहीं किया है. रिचा बहुत ही बोल्ड और सेक्सी अंदाज में दिखीं हैं. हालांकि इनका यह अवतार हम उनकी पिछली फिल्म 'फुकरे' में भी देख चुके हैं जहां वह ड्रग डीलर होती हैं. बेशक रिचा चड्ढा बेहतरीन एक्ट्रेस हैं और अपनी भूमिका बखूबी निभाती हैं, लेकिन ऐसा लग रहा है वह एक ही तरह की इमेज में बंध रही हैं.

हां, इस फिल्म में आपको राणा की भूमिका में दमनदीप सिद्धू अपनी एक्टिंग से सरप्राइज कर सकते हैं. दमनदीप अपनी भूमिका को पूरी तरह निभाने में सफल रहे हैं और आपको इंप्रेस कर सकते हैं.

फिल्म का एक गाना 'प्यार में दिल पे मार दे गोली' के अलावा कोई ऐसा गाना नहीं है जो आपकी जुबान पर चढ़ सके. हालांकि इस बोरिंग फिल्म में मोहित चौहान का गाना 'खामखा तुमसे पाला पड़ गया' और सोनू निगम की आवाज में 'ओय दिलदारा' आपके दिमाग को थोड़ी राहत पहुंचाएगी.

(Follow Pawan Rekha on Twitter @rekhatripathi, You can also send him your feedback at pawanr@abpnews.in)

Source: abpnews.abplive.in

To category page

Loading...