यूपी में बैंकों की तिजोरियों (करेंसी चेस्ट) को सुरक्षा मुहैय्या कराएगी पुलिस

26 November, 2013 5:16 PM

22 0

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बैंकों की तिजोरियों (करेंसी चेस्ट) को सुरक्षा मुहैया कराने के लिये हर जिले में नोडल थाने बनाने पर सहमति व्यक्त की.

पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) राजकुमार विश्वकर्मा ने लखनऊ में संवाददाताओं को बताया कि राज्य पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स, आतंकवाद रोधी दस्ते तथा अपराध शाखा के अधिकारियों की भारतीय रिजर्व बैंक तथा अन्य बैंकों के अफसरों के साथ हुई बैठक में बैंकों तथा पुलिस के बीच बेहतर तालमेल सुनिश्चित करने का फैसला किया गया.

उन्होंने बताया कि राज्य में 465 तिजोरियों को सुरक्षा उपलब्ध कराने की बैंकों की मांग को स्वीकार करते हुए हर तिजोरी की सुरक्षा में दो प्रधान आरक्षियों तथा आठ आरक्षियों को तैनात करने पर सहमति बनी है. इनमें से नक्सल प्रभावित सोनभद्र, मिर्जापुर तथा चंदौली में क्र मश: छह, एक तथा एक तिजोरी है.

विश्वकर्मा ने बताया कि जाली नोटों की बरामदगी और इस सिलसिले में मुकदमा दर्ज कराने में होने वाली समस्याओं से निपटने के लिये बैठक में तय किया गया है कि हर जिले में एक नोडल थाना बनाया जाए जहां ऐसे मामलों के मुकदमे दर्ज किये जाएं. इसके अलावा जिला पुलिस को भी जाली नोटों के कारोबारियों से निपटने के लिये सतर्क किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि बैंकों से भी कहा गया है कि वे जाली नोटों का चलन रोकने के लिये अपने यहां करेंसी डिटेक्टर लगायें.

विश्वकर्मा ने बताया कि बैठक के दौरान बैंकों के प्रतिनिधियों से कहा गया कि वे एटीएम कक्ष में एक के बजाय दो सीसीटीवी कैमरा लगाएं.

Source: samaylive.com

To category page

Loading...