शिवकुमार ने कहा, युवती को रोकने के लिए चांटा मारा था

4 February, 2015 5:56 AM

3 0

नयी दिल्ली : उबर कैब दुष्‍कर्म मामले के आरोपी शिवकुमार ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को झूठा बताते हुए दुष्‍कर्म किये जाने से साफ इनकार किया है. उसने कहा है कि उसे इस मामले में हर तरह से फंसाने की कोशिश की जा रही है. तीस हजारी कोर्ट की अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कावेरी बावेजा की फास्ट ट्रैक कोर्ट में आरोपी चालक शिवकुमार यादव के बयान रिकार्ड किए गए.

शिवकुमार ने अदालत को बताया कि युवती कार में बैठते ही रोने लगी थी. वह फोन पर किसी से बात कर रही थी और एक दोस्‍त का नाम लेकर कह रही थी कि उसने मेरे साथ ठीक नहीं किया और वह अपने मंगेतर से शादी करेगी. शिवकुमार ने यह बात अदालत में अपने बयान दर्ज कराते वक्‍त भी कही थी. वहीं इस मामले में आज (बुधवार) को शिवकुमार की पत्‍नी अपने बयान दर्ज करायेंगी.

फास्‍ट ट्रैक कोर्ट में बयान दर्ज कराते वक्‍त आरोपी ने इस बात का खुलासा किया था कि युवती ने चलती कार में दरवाजा खोलने की कोशिश की थी. उसे रोकने के लिए उसने युवती को चांटे मारे थे. शिवकुमार ने बताया कि उसे नहीं बताया गया कि कोर्ट में युवती ने कब उसकी पहचान की. साथ ही शिवकुमार ने कहा कि उसने युवती के साथ दुर्व्यहार नहीं किया और न ही उसका गला दबाने की कोशिश की थी. इस मामले में अभियोजन पक्ष अब तक 28 गवाहों से पूछताछ कर चुका है.

आपको बता दें कि 5 दिसंबर 2014 को सराय रोहिल्ला थाना क्षेत्र में उबर कंपनी की कैब में चालक शिवकुमार यादव ने युवती से दुष्कर्म किया था. फिर 7 दिसंबर को दिल्ली व उत्तर प्रदेश पुलिस की संयुक्त टीम ने उसे मथुरा गिरफ्तार किया था. वहीं आरोपपत्र में कहा गया है कि चालक ने युवती के साथ अप्राकृतिक संबंध बनाने की कोशिश भी की थी. उसने युवती के पेट में सरिया घुसाने की भी धमकी दी थी.

Source: prabhatkhabar.com

To category page

Loading...