सर्दियों में रखें खुद का ख्याल

23 November, 2013 12:43 PM

48 0

सर्दियों के मौसम में जुकाम और फ्लू होना सामान्य है लेकिन रोज के खान-पान में कुछ चीजों को शामिल कर लिया जाए तो इन बीमारियों से दूर रहा जा सकता है. इन चीजों के खाने-पीने से सर्दी-जुकाम से काफी हद तक बचा जा सकता है. कुछ लोगों की प्रकृति नाजुक होती है, जरा सी ठंडी हवा लगते ही शरीर पर सर्दी का प्रभाव नजर आने लगता है. आप घरों में मौजूद कुछ ऐसे उपाय अपनाएं, जिनसे आपकी सर्दी भी ठीक हो जाए और आपका बजट भी नहीं बिगड़े. गर्म सूप: इसे नेचुरल पेनिसिलिन कहा जाता है. हॉट सूप में उपचार की ताकत सबसे ज्यादा और अच्छी होती है. सूप पचने में भी हल्का होता है. हॉट चिकन सूप गले को साफ रखता है और शोरबा अधिक एनर्जी देता है. इसकी ताकत को बढ़ाने के लिए इसके साथ प्याज और लहसुन समेत सब्जियों का इस्तेमाल किया जा सकता है. वेजीटेबल सूप में टमाटर और मिक्स वेज लिया जा सकता है. स्पाइसी खाना: कुछ लोग सर्दी जुकाम से बचने के लिए लहसुन, हार्स रेडिश, मिर्च या मसालेदार सॉस पर पूरा भरोसा करते हैं. वैसे भी भारतीय खाने में मसालेदार चीजों की मात्रा होती ही है. आपका खाना स्पाइसी न हो तो स्पाइसी सॉस लिया जा सकता है. ड्रिंक्स: चाहे सर्दी हो या गर्मी भरपूर मात्रा में तरल चीजें लेकर डिहाइड्रेशन से बचना जरूरी होता है.कॉफी, चाय या अन्य मीठे ड्रिंक्स पीने की बजाय बेहतर होगा कि पानी खूब पिया जाए और ताजा फ्रूट जूस लिया जाए. हॉट बिवरेज कुछ लोगों के लिए बेहतर काम करते हैं इसलिए पीपरमेंट हर्बल टी भी ली जा सकती है या नींबू के साथ गर्म पानी ले सकते हैं. ग्रीन टी भी बेहतर ऑप्शन है. सायट्रस फ्रूट्स: विटामिन सी के लिए खट्टे फल खाए जा सकते हैं.ब्रेकफास्ट में संतरे का जूस लिया जा सकता है या अंगूर खा सकते हैं. लंच के दौरान सलाद में सायट्रस फ्रूट्स ज्यादा खाएं.अगर कोई धूम्रपान करता है तो उसके लिए विटामिन सी की ज्यादा मात्रा लेना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि धूम्रपान करने वाले व्यकित को सर्दी-जुकाम जल्दी होने का जोखिम होता है. लहसुन: लहसुन में एलिन नाम का फ्लैवरिंग एजेंट होता है.यह सर्दी-खांसी की दवा के रूप में काम करता है. ये एंटीऑक्सिडेंट का भी काम करता है. यह फ्री रेडिकल्स को खत्म करता है, जो सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं और एंटीऑक्सिडेंट होने के साथ ही साथ यह खाने को भी स्वादिष्ट बनाता है इसलिए लहसुन को फेवरेट फूड में शामिल करें. अदरक: चाय को अगर अदरक डालकर पीते हैं तो यह सर्दी-जुकाम और बुखार का बेहतरीन इलाज हो सकता है.अदरक का पानी भी पी सकते हैं.अच्छी तरह के कटे 2 चम्मच अदरक को 5 से 10 मिनट तक पानी में उबालें ठंडा कर इसे पीने से शरीर को काफी फायदा पहुंचता है.स्वाद के लिये इसका अचार व सलाद भी बनाया जा सकता है. विटामिन सी के सोर्स: विटामिन सी सिर्फ संतरे, नींबू जैसे खट्टे फलों में ही नहीं मिलता है.आलू, शिमला मिर्च, स्ट्रॉबेरी और पाइनएपल भी विटामिन सी के अच्छे स्रोत हैं इन्हें रोज खाने से सर्दी-जुकाम से लड़ा जा सकता है. अंडा: वैसे तो अंडा प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत माना जाता है लेकिन सर्दियों में यदि इसका सेवन भरपूर किया जाये तो यह आपको स्वस्थ रखता है.साथ ही साथ बालों व त्वचा के लिये भी फाय़देमंद है. संबंधित खबरें- ज्यादा कॉफी पीने से हो सकता है खतरा टमाटर खाओ,सेहत बनाओ कोल्ड ड्रिंक से बच्चों को रखें दूर खबरों का लगातार अपडेट जानने के लिए आप हमें Facebook पर ज्वॉइन करें. आप हमें Twitter पर भी फॉलो कर सकते हैं.

सर्दियों के मौसम में जुकाम और फ्लू होना सामान्य है लेकिन रोज के खान-पान में कुछ चीजों को शामिल कर लिया जाए तो इन बीमारियों से दूर रहा जा सकता है. इन चीजों के खाने-पीने से सर्दी-जुकाम से काफी हद तक बचा जा सकता है. कुछ लोगों की प्रकृति नाजुक होती है, जरा सी ठंडी हवा लगते ही शरीर पर सर्दी का प्रभाव नजर आने लगता है. आप घरों में मौजूद कुछ ऐसे उपाय अपनाएं, जिनसे आपकी सर्दी भी ठीक हो जाए और आपका बजट भी नहीं बिगड़े.

सर्दियों के मौसम में जुकाम और फ्लू होना सामान्य है लेकिन रोज के खान-पान में कुछ चीजों को शामिल कर लिया जाए तो इन बीमारियों से दूर रहा जा सकता है. इन चीजों के खाने-पीने से सर्दी-जुकाम से काफी हद तक बचा जा सकता है. कुछ लोगों की प्रकृति नाजुक होती है, जरा सी ठंडी हवा लगते ही शरीर पर सर्दी का प्रभाव नजर आने लगता है. आप घरों में मौजूद कुछ ऐसे उपाय अपनाएं, जिनसे आपकी सर्दी भी ठीक हो जाए और आपका बजट भी नहीं बिगड़े.

इसे नेचुरल पेनिसिलिन कहा जाता है. हॉट सूप में उपचार की ताकत सबसे ज्यादा और अच्छी होती है. सूप पचने में भी हल्का होता है. हॉट चिकन सूप गले को साफ रखता है और शोरबा अधिक एनर्जी देता है. इसकी ताकत को बढ़ाने के लिए इसके साथ प्याज और लहसुन समेत सब्जियों का इस्तेमाल किया जा सकता है. वेजीटेबल सूप में टमाटर और मिक्स वेज लिया जा सकता है.

इसे नेचुरल पेनिसिलिन कहा जाता है. हॉट सूप में उपचार की ताकत सबसे ज्यादा और अच्छी होती है. सूप पचने में भी हल्का होता है. हॉट चिकन सूप गले को साफ रखता है और शोरबा अधिक एनर्जी देता है. इसकी ताकत को बढ़ाने के लिए इसके साथ प्याज और लहसुन समेत सब्जियों का इस्तेमाल किया जा सकता है. वेजीटेबल सूप में टमाटर और मिक्स वेज लिया जा सकता है.

कुछ लोग सर्दी जुकाम से बचने के लिए लहसुन, हार्स रेडिश, मिर्च या मसालेदार सॉस पर पूरा भरोसा करते हैं. वैसे भी भारतीय खाने में मसालेदार चीजों की मात्रा होती ही है. आपका खाना स्पाइसी न हो तो स्पाइसी सॉस लिया जा सकता है.

कुछ लोग सर्दी जुकाम से बचने के लिए लहसुन, हार्स रेडिश, मिर्च या मसालेदार सॉस पर पूरा भरोसा करते हैं. वैसे भी भारतीय खाने में मसालेदार चीजों की मात्रा होती ही है. आपका खाना स्पाइसी न हो तो स्पाइसी सॉस लिया जा सकता है.

चाहे सर्दी हो या गर्मी भरपूर मात्रा में तरल चीजें लेकर डिहाइड्रेशन से बचना जरूरी होता है.कॉफी, चाय या अन्य मीठे ड्रिंक्स पीने की बजाय बेहतर होगा कि पानी खूब पिया जाए और ताजा फ्रूट जूस लिया जाए. हॉट बिवरेज कुछ लोगों के लिए बेहतर काम करते हैं इसलिए पीपरमेंट हर्बल टी भी ली जा सकती है या नींबू के साथ गर्म पानी ले सकते हैं. ग्रीन टी भी बेहतर ऑप्शन है.

चाहे सर्दी हो या गर्मी भरपूर मात्रा में तरल चीजें लेकर डिहाइड्रेशन से बचना जरूरी होता है.कॉफी, चाय या अन्य मीठे ड्रिंक्स पीने की बजाय बेहतर होगा कि पानी खूब पिया जाए और ताजा फ्रूट जूस लिया जाए. हॉट बिवरेज कुछ लोगों के लिए बेहतर काम करते हैं इसलिए पीपरमेंट हर्बल टी भी ली जा सकती है या नींबू के साथ गर्म पानी ले सकते हैं. ग्रीन टी भी बेहतर ऑप्शन है.

विटामिन सी के लिए खट्टे फल खाए जा सकते हैं.ब्रेकफास्ट में संतरे का जूस लिया जा सकता है या अंगूर खा सकते हैं. लंच के दौरान सलाद में सायट्रस फ्रूट्स ज्यादा खाएं.अगर कोई धूम्रपान करता है तो उसके लिए विटामिन सी की ज्यादा मात्रा लेना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि धूम्रपान करने वाले व्यकित को सर्दी-जुकाम जल्दी होने का जोखिम होता है.

विटामिन सी के लिए खट्टे फल खाए जा सकते हैं.ब्रेकफास्ट में संतरे का जूस लिया जा सकता है या अंगूर खा सकते हैं. लंच के दौरान सलाद में सायट्रस फ्रूट्स ज्यादा खाएं.अगर कोई धूम्रपान करता है तो उसके लिए विटामिन सी की ज्यादा मात्रा लेना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि धूम्रपान करने वाले व्यकित को सर्दी-जुकाम जल्दी होने का जोखिम होता है.

लहसुन में एलिन नाम का फ्लैवरिंग एजेंट होता है.यह सर्दी-खांसी की दवा के रूप में काम करता है. ये एंटीऑक्सिडेंट का भी काम करता है. यह फ्री रेडिकल्स को खत्म करता है, जो सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं और एंटीऑक्सिडेंट होने के साथ ही साथ यह खाने को भी स्वादिष्ट बनाता है इसलिए लहसुन को फेवरेट फूड में शामिल करें.

लहसुन में एलिन नाम का फ्लैवरिंग एजेंट होता है.यह सर्दी-खांसी की दवा के रूप में काम करता है. ये एंटीऑक्सिडेंट का भी काम करता है. यह फ्री रेडिकल्स को खत्म करता है, जो सेल्स को नुकसान पहुंचाते हैं और एंटीऑक्सिडेंट होने के साथ ही साथ यह खाने को भी स्वादिष्ट बनाता है इसलिए लहसुन को फेवरेट फूड में शामिल करें.

Source: shrinews.com

To category page

Loading...