हसीना ने बीएनपी से की कैबिनेट पद की पेशकश

25 November, 2013 4:05 AM

24 0

शेख हसीना ने बीएनपी से रविवार को सर्वदलीय सरकार में शामिल होने की अपील करते हुए कहा कि वह ऐसे किसी भी मंत्रालय की पेशकश करने को तैयार है, जो विपक्षी नेता खालिदा जिया अपनी पार्टी के लिए कैबिनेट में चाहती हो.

हसीना ने अवामी लीग से नामित होने की इच्छा रखने वालों के साथ एक बैठक में कहा कि अपनी पार्टी के सांसदों के नाम दीजिए, उन्हें वह मंत्रालय दिया जाएगा जो आप चाहते हैं...आइए हम एक शांतिपूर्ण और विश्वसनीय चुनाव में शामिल हो.

उन्होंने जिया से चुनाव प्रक्रिया में शामिल होने की अपील की क्योंकि ऐसा संदेह है कि बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) हसीना के नेतृत्व वाली एक सरकार के तहत चुनाव में भाग लेगी.

एक नयी संवैधानिक समय सीमा के तहत 25 जनवरी से पहले चुनाव कराए जाने के मद्दे नजर तीन दिन पहले हसीना ने 30 मंत्रियों को हटा दिया था और नवगठित सर्वदलीय कैबिनेट में विभागों का पुनर्वितरण किया था.

हसीना ने कहा कि सिर्फ बीएनपी ही कैबिनेट में शामिल नहीं हुई है. इसलिए मैं विपक्षी नेता से सांसदों को कैबिनेट में शामिल होने के लिए भेजने का अनुरोध करती हूं.

बीएनपी नीत 18 पार्टियों का विपक्षी गठबंधन चुनावों की निगरानी के लिए एक गैर पार्टी तटस्थ सरकार के गठन की मांग करते हुए आंदोलन कर रहा है. इस गठबंधन में कट्टरपंथी जमात ए इस्लामी भी शामिल है.

इस बीच, अवामी लीग के महासचिव और स्थानीय सरकार के मंत्री सैयद अशरफुल इस्लाम ने बीएनपी के महासचिव मिर्जा फखरूल इस्लाम आलमगीर के साथ एक विपक्षी सांसद के आवास पर 45 मिनट तक बैठक की.

निजी टीवी चैनलों और अखबारों ने अपने ऑनलाइन प्रारूप पर मध्य रात्रि के करीब यह खबर दी.

हालांकि, आलमगीर ने बैठक से जुड़ी खबरों को खारिज कर दिया, पर दोनों पक्ष में मौजूद कई सूत्रों ने चुनावकालीन सरकार की प्रणाली पर बैठक होने की पुष्टि की है.

आलमगीर ने कहा कि मुझे माफ कीजिये. मैं आपको खुश नहीं कर सकता. हमारे बीच कोई मुलाकात नहीं हुई है.

हालांकि, बीएनपी के एक वरिष्ठ नेता ने इस कथित बैठक की बाद में पुष्टि की लेकिन कहा कि यह बगैर किसी खास प्रगति के खत्म हुई.

डेली स्टार ने बीएनपी की शीर्ष नीति निर्माण स्थायी समिति के सदस्य एएसएम हनान शाह के हवाले से बताया कि मुझे भी यह पता चला है कि मुलाकात हुई है लेकिन इसमें कोई खास प्रगति नहीं हुई.

शाह ने विस्तार से इस बारे में जानकारी नहीं दी.

अवामी लीग वार्ता के बारे में चुप्पी साधे हुए है जबकि आलमगीर ने कहा कि भ्रम पैदा करने के लिए अफवाह फैलाई गई है.

Source: samaylive.com

To category page

Loading...