'हाईजैक' टास्क की विजेता बनी दीपशिखा की टीम, कल सुबह होगी बिग बॉस के नए घर में एंट्री

30 September, 2014 3:05 PM

12 0

आज शाम को बिग बॉस ने हाईजैक टास्क का विजेता दीपशिखा की टीम को घोषित किया. बिग बॉस ने इन्हें कहा कि ये अपने बैंग्स पैक कर लें और अगली सुबह नए घर में जाने की तैयारी करें.

टास्क खत्म होते ही बिग बॉस ने गौतम को उनकी सजा सुना दी. बिग बॉस ने गौतम के खराब व्यवहार की वजह से इस हफ्ते नॉमिनेशन्स करने का उनका अधिकार उनसे छीन लिया. इसका मतलब ये है कि इस हफ्ते गौतम किसी को घर से बाहर होने के लिए नॉमिनेट नहीं कर पाएंगे. बाकी घर वाले गौतम को नॉमिनेट कर सकते हैं.

आज दीपशिखा की टीम सीट पर बैठी थी और प्रीतम की टीम को उसे हाईजैक करना था. आज अच्छा मौका था बदला लेने का. लेकिन प्रीतम की टीम में सब लोग बदला लेने के भाव से सहमत नहीं थे. पुनीत इस्सार और प्रनीत भट्ट ने विरोधी टीम को टार्चर करने से मना कर दिया. हालांकि गौतम ने इस टीम से पूरा बदला लिया. गौतम ने करिश्मा के चेहरे पर लाल मिर्च पाउडर पोतकर अपना बदला पूरा कर लिया.

वैसे तो बाकी लोगों ने जो भी तरीके अपनाए वो कल जैसे ही थे लेकिन सुकीर्ति ने एक नया तरीका ढ़ूढ़ निकाला. सीट खाली कराने के लिए सुकीर्ति ने उपेन के पैर का वैक्स करना शुरू कर दिया. फिर क्या था उपेन के पास हर स्ट्रिप पर चिल्लाने के अलावा कोई विकल्प नहीं था.

सोनी ने सुकीर्ति का साथ देते हुए आर्या के हाथ और पैर शेव कर दिए. अब इन्हें टास्क जीतना था तो इतना तो बर्दाश्त करना ही पड़ता. हालांकि नताशा ने अपना पूरा ध्यान करिश्मा पर लगा रखा था. सब कुछ करने के बाद भी दीपशिखा की टीम को कोई टस से मस नहीं कर सका.

सीट पर बैठे सुशांत के चेहरे पर बाम लगाकर गौतम गुलाटी बार -बार उन्हें इरिटेट कर रहे थे. बाम लगते ही सुशांत रोने लगे. ऐसा देखकर गौतम को सुशांत की कमजोरी समझ में आ गई. दोबारा गौतम उनके चेहरे पर बाम लगाने गए तो खुद को बचाते हुए सुशांत ने अपने चेहरे को साफ करने के लिए अपनी शर्ट उतार दी. इसके बाद गौतम उनकी शर्ट को खींचन लगे. फिर क्या था गुस्से में सुशांत चिल्लाए कि गौतम मैं तुम्हें मार दूंगा. ये तो कैप्टन दीपशिखा ने आकर मामले को शांत कर दिया नहीं तो गौतम को थप्पड़ तो लग ही जाता.

घर में इसी टास्क के दौरान एक दिन पहले हुए ड्रामे की वजह से पुनीत और प्रनीत ने टास्क के दौरान कुछ बर्दाश्त से बाहर टार्चर करने से मना कर दिया. पुनीत इस्सार विरोधी टीम को पानी और तौलिया देते नजर आए. इस बात से सुकीर्ति और सोनी काफी नाराज थीं क्योंकि एक दिन पहले ही दीपशिखा की टीम ने इन्हें टार्चर करके इनके छक्के छुड़ा दिए थे.

सब मिलाकर यह कहा जा सकता है दूसरे राउंड के दौरान प्रीतम की टीम में एकता नहीं था. अब सब लोग मिलकर गेम खेलते तो रिजल्ट कुछ और भी हो सकता था.

Source: abpnews.abplive.in

To category page

Loading...