Film Review: रहस्य और रोमांच से भरी है एक विलेन

27 June, 2014 10:02 AM

34 0

Film Review: रहस्य और रोमांच से भरी है एक विलेन

मोहित सूरी की फिल्मों में हमेशा से डार्क फैक्टर रहता है और एक विलेन में भी वह फैक्टर फिल्म के शुरू से लेकर आखिर तक बना रहता है और यही फैक्टर जादुई काम भी करता है. पहला ऐसा मौका होगा जब फिल्म में विलेन्स की भरमार है. कहानी मजेदार है. कहीं थोड़ी उलझाऊ लगती है लेकिन मोहित अपने डायरेक्शन से इसे बखूबी खींच ले जाते हैं, और फिर श्रद्धा, रितेश और सिद्धार्थ की तिकड़ी ने भी अपनी एक्टिंग से इसे चार चांद लगाने का काम किया है. फिल्म बांधे रखती है और इसमें दर्शकों को खींचने वाला सारा मसाला मौजूद है, जिसमें बेहतरीन म्यूजिक से लेकर थ्रिलिंग मूमेंट तक शामिल है. एक्टिंग और डायरेक्शन फिल्म की खासियत बनकर उभरते हैं.

कहानी में कितना दमगुरु (सिद्धार्थ) आयशा (श्रद्धा) से मिलता है और उसके नटखट अंदाज का दीवाना हो जाता है. लेकिन वो एक स्थानीय गुंडे के लिए काम करता है. वहीं, राकेश (रितेश) अपनी बीवी के कोसे जाने से काफी दुखी रहता है. बस ये सभी किरदार एक-दूसरे का रास्ता काटते हैं और फिर कुछ अप्रत्याशित घटनाओं का सिलसिला शुरू हो जाता है. जिसमें रहस्य, रोमांच और खून-खराबे का भरपूर समागम है. एक विलेन है, एक हीरो जैसा विलेन है और साइकिक विलेन है. मतलब विलेन्स की भरमार. एक विलेन दक्षिण कोरियाई फिल्म आइ सॉ द डेविल का भारतीय संस्करण है. लेकिन मोहित की किरदारों को पिराने की जबरदस्त कला यहां उभरकर आती है. कहानी कहने का उनका अनूठा अंदाज है और मोहित का हुनर विदेशी कहानी को देसी अंदाज में मस्त अंदाज में कहना है..

स्टार अपीलरितेश देशमुख की हमशकल्स ने पिछले हफ्ते बॉक्स ऑफिस पर अच्छा-खासा हल्ला-बोल किया था. इस हफ्ते वे फिर से दर्शकों की कसौटी पर हैं. फिल्म में उनकी ऐक्टिंग बेहतरीन है और यह उनके यादगार किरदारों में से एक बन पड़ा है. रितेश फिल्म में जान डालने का काम करते हैं. सिद्धार्थ मल्होत्रा भी एंग्री यंगमैन के तौर पर निखरकर सामने आए हैं. उनको देखकर लगता है कि यह एक बड़े स्टार का आगाज हो गया है. वे ऐक्शन करते जमते है और दर्द बहुत ही बढ़िया अंदाज में बयान करते हैं. श्रद्धा स्क्रीन पर आते ही पूरे माहौल को बदलकर रख देती हैं. आशिकी-2 वाला उनका जादू बरकरार है. इसके अलावा रेमो फर्नांडिज और रितेश की बीवी बनीं आमना शरीफ भी अपना बेस्ट देते नजर आते हैं.

कमाई की बातफिल्म मीडियम बजट बताई जाती है, और मोहित सूरी की यह खासियत रही है कि वे कम बजट में मेगा हिट देने में माहिर है. फिल्म के म्यूजिक को इसका एक्स फैक्टर कहा जा सकता है. इसके अलावा सस्पेंस और रोमांच को दर्शक पसंद भी करते हैं. फिल्म में यूथ को कनेक्ट करने वाला मसाला भी मौजूद है. सिद्धार्थ और श्रद्धा पहले ही यूथ ऑडियंस की कसौटी पर हंसी तो फंसी और आशिकी-2 के जरिये खरे उतर चुके हैं. फिल्म की स्पीड भी अच्छी है, और खींची हुई नहीं लगती है.

अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें. आप दिल्ली आजतक को भी फॉलो कर सकते हैं.

For latest news and analysis in English, follow IndiaToday.in on Facebook.

Source: aajtak.intoday.in

To category page

Loading...