IIT कानपुर के 12 छात्र छात्रायें बने करोड़पति, आगे और उम्मीद

7 December, 2013 6:30 PM

17 0

यह आईआईटी में एक रिकॉर्ड है जबकि 50 से 75 लाख प्रतिवर्ष पाने वाले छात्र छात्राओं की संख्या दर्जनों में है.

आईआईटी कानपुर के प्लेसमेंट इंचार्ज विमल कुमार ने बताया कि एक दिसंबर से परिसर में प्लेसमेंट अभियान शुरू हुआ था जिसमें संस्थान के बीटेक, एमटेक, बीटेक एमटेक डयूएल कोर्स, एमएससी और एमबीए के 1100 छात्र छात्राओं ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया था जिसमें से आज तक करीब 350 छात्र छात्राओं को नौकरी का ऑफर लेटर मिल चुका है.

अभी तक संस्थान में 50 मल्टीनेशल कंपनियां और 40 देश की कंपनिया प्लेसमेंट के लिये आ चुकी है.

छात्रों के मिल रहे इस करोड़पति पैकेज के बारे में आईआईटी के एक बड़े अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि आईआईटी कानपुर में अभी तक 12 छात्र छात्राओं को एक करोड़ या उससे ऊपर वार्षिक वेतन का ऑफर मिल चुका है.

इसमें सबसे ज्यादा अमेरिका की गूगल कंपनी ने छह छात्रों को भारतीय मुद्रा में एक करोड़ रूपये सालाना का ऑफर दिया है जबकि अमेरिका की ओरेकेल ने तीन छात्र छात्राओं को एक करोड़ 30 लाख रूपये सालाना का ऑफर दिया है.

लिंकडिन ने दो छात्रों को एक करोड़ रूपये सालाना का ऑफर दिया है वहीं टावर रिसर्च ने एक छात्र को एक करोड़ रूपये का ऑफर दिया है.

आईआईटी के अधिकारी ने कहा कि अभी तक एक करोड़ या उससे ऊपर का ऑफर पाने वालों यह संख्या 12 है लेकिन चूंकि आईआईटी के प्लेसमेंट अभियान में करीब 250 देशी विदेशी कंपनियों का आना है और अभी तक केवल 90 कंपनिया ही आई है इसलिये हम उम्मीद करते है कि एक करोड़ के क्लब में शामिल होने वाले छात्र छात्राओं का आंकड़ा तीन दर्जन तक पहुंच सकता है.

अधिकारी ने उन खबरों का खंडन भी किया जिसमें कहा गया था कि ओरेकेल के एक करोड़ तीस लाख के ऑफर को तीन छात्रों ने ठुकरा दिया है.

इस बारे में आईआईटी के प्लेसमेंट सेल के प्रभारी प्रो कुमार से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि वह इस बात की न तो पुष्टि करते हैं और न ही इसका खंडन क्योंकि आईआईटी प्रशासन की गाइड लाइन है कि वह किसी भी छात्र छात्रा को मिलने वाले पैकेज को मीडिया के साथ शेयर न करें.

यह जरूर है कि आईआईटी कानपुर के छात्रों को बढ़िया पैकेज मिल रहा है वह इससे बहुत उत्साहित है.

उन्होंने कहा कि आईआईटी में चयन प्रक्रिया रविवार एक दिसंबर से शुरू हुई है और अभी तक देशी विदेशी करीब 90 कंपनिया बारी-बारी से आ चुकी है जबकि अभी करीब 160 कंपनिया और आनी है इनमें मल्टीनेशनल विदेशी कंपनियों से लेकर देशी कंपनिया और भारतीय पीएसयू भी शामिल है.

इस प्लेसमेंट अभियान में अभी तक करीब 1100 छात्र छात्राओं ने अपना पंजीकरण कराया है लेकिन अभी और छात्र छात्राओं का पंजीकरण होगा क्योंकि प्लेसमेंट में आने वाल कंपनिया 22 दिसंबर तक संस्थान में प्लेस्मेंट अभियान चलायेंगी और देशी विदेशी कंपनियां 22 दिसंबर तक बारी बारी से कैम्पस में प्लेसमेंट के लिये आती रहेंगी.

Source: samaylive.com

To category page

Loading...